नई दिल्ली। केंद्रीय पर्यटन सचिव श्री विनोद जुत्शी की अध्यक्षता में केंद्रीय मंजूरी और निगरानी समिति (सीएसएमसी) ने प्रधानमंत्री पुनर्विकास योजना (पीएमआरपी) के अंतर्गत जम्मू और कश्मीर के पर्यटन विकास के लिए ‘स्वदेश दर्शन स्कीम’ के तहत 500 करोड़ रुपये के परियोजना को मंजूरी दी।

नई परियोजनाओं में मनतलई- शुद्धमहादेव-पतनीटॉप 99.99 करोड़ रुपये, बारामुला-कुपवाड़ा-लेह सर्किट 99.98 करोड़ रुपये, राजौरी – बफलियाज सोपिया- पुलवामा सर्किट 99.99 करोड़ रुपये, अनन्तनाग-किश्तवार- पहलगाम-दकसुम-रंजीत सागर डैम सर्किट 99.75 करोड़ रुपये शामिल हैं। इसके अलावा, पर्यटन सुविधाओं के एकीकृत विकास के लिए बाढ़ में क्षतिग्रस्त सम्पत्तियों के लिए 99.99 करोड़ रुपये दिए गए।

इन परियोजनाओं से जम्मू-कश्मीर में पर्यटन के ढांचागत विकास की परिकल्पना की गई है। अन्य प्रस्तावित प्रमुख सर्किटों में अमरनाथ यात्रियों के लिए पर्यटन सुविधा/व्याख्या केन्द्र, ट्रैकिंग के लिए आधार शिविर, अन्त तक रास्तों का जुड़ाव, शालिमार बाग में ध्वनि और प्रकाश शो, ऐतिहासिक संरचनाओं में लाइटिंग, पर्यावरण अनुकूल गाड़ियां, गोल्फ कोर्स की सुविधा और पूरे राज्य में पर्यटन सुविधा को बढ़ावा देना शामिल है।

कोई जवाब दें