‘महामिलावट’ है विपक्ष का महागठबंधन, जनता सतर्क रहे : नरेन्द्र मोदी
नई दिल्ली : प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने विपक्ष के महागठबंधन को ‘‘महामिलावट’’ करार देते हुए शुक्रवार को कहा कि जनता इससे सतर्क रहे। प्रधानमंत्री ने रायगढ़ के कोड़ातराई में लोकसभा चुनाव का शंखनाद करते हुए विजय संकल्प रैली में कहा कि भ्रष्टाचार के आरोपों से घिरे कुछ लोग, लूट-खसोट के लिए एकजुट हो रहे हैं। इनसे सतर्क और जागरूक रहें, क्योंकि ‘‘इनका मुद्दा विकास नहीं, सिर्फ मोदी और मोदी है।’’ मोदी ने किसी का नाम लिए बगैर कहा कि कांग्रेस के ‘‘नामदार परिवार’’ के हर सदस्य के विरुद्ध अदालत में गंभीर मामले चल रहे हैं, इस परिवार के ज्यादातर सदस्य जमानत और अग्रिम जमानत पर हैं। उन्होंने कहा कि केंद्र की सरकार गरीबों की सरकार है और गरीबों के लिए है।

पिछले साढ़े चार वर्षों में देश में गरीबी कम होनी शुरू हुई है। प्रधानमंत्री ने कहा कि कांग्रेस ने पिछले 55 वर्षों में गरीबों को गुमराह किया। हमने 55 महीनों में गरीबों में नया विश्वास भरा, नयी उम्मीद जगाई और उनके सपनों को सच करने की कोशिश की है। उन्होंने आदिवासी, दलितों और गरीबों के लिए सरकारी योजनाओं तथा बजट में आयकर की छूट को लेकर कहा कि मजदूरों के लिए पेंशन और किसान सम्मान निधि देश में पहली बार शुरू हुई है।

उन्होंने इंडियन बैंक एसोसिएशन को किसान क्रेडिट कार्ड में किसी भी तरह का शुल्क नहीं लेने पर बधाई दी। प्रधानमंत्री मोदी ने छत्तीसगढ़ की कांग्रेस सरकार को कठघरे में खड़ा किया और कहा कि राज्य सरकार ने ऋण माफी के नाम पर किसानों के साथ धोखाधड़ी की है। पिछले विधानसभा चुनाव के बाद आज रायगढ़ में पहली आमसभा को संबोधित करते हुए उन्होंने कहा कि राज्य सरकार किसानों के सिर्फ ग्रामीण बैंक और सहकारी बैंकों के छोटे ऋण माफ कर रही है। राष्ट्रीयकृत बैंकों के लोन को माफ नहीं किया जा रहा है।

उन्होंने छत्तीसगढ़ में गरीबों के लिए आयुष्मान भारत योजना को बंद करने का आरोप लगाते हुए कहा कि कांग्रेस सरकार जानबूझकर गरीबों के इलाज का अधिकार छीन रही है। अब गरीबों को जमीन बेचकर गंभीर बीमारियों का इलाज कराना होगा। मोदी ने कहा कि छत्तीसगढ़ की नई सरकार ने निर्णय लिया है कि राज्य में सीबीआई को घुसने नहीं देंगे। सीबीआई जांच में अड़ंगा लगाएंगे। अभी से भ्रष्टाचार को छुपाने में लग गए हैं। इन्हें यह संस्कार दिल्ली से मिले हैं, क्योंकि वह अगले चुनाव के लिए छत्तीसगढ़ को एटीएम बनाना चाहते है। अगर भ्रष्टाचार होता है तब सीबीआई को कार्यवाही करने का अधिकार है, यदि आपने कुछ नहीं किया तो सीबीआई से डर कैसा।

कोई जवाब दें