नालों का प्रदूषित जल सरयू नदी में नहीं गिराने दिया जायेगा : गडकरी
नई​ दिल्ली। केन्द्रीय सड़क परिवहन एवं राजमार्ग, पोत परिवहन, जल संसाधन, नदी विकास एवं गंगा संरक्षण मंत्री नितिन गडकरी ने कहा कि मर्यादा पुरुषोत्तम भगवान श्रीराम की नगरी अयोध्या में सरयू नदी में नालों का प्रदूषित जल गिराने नहीं दिया जायेगा। श्री गडकरी शुक्रवार को यहां राजकीय इण्टर कालेज में आयोजित सभा को सम्बोधित कर रहे थे। उन्होंने कहा कि मर्यादा पुरुषोत्तम भगवान श्रीराम की नगरी में सरयू नदी में नालों का जो दूषित जल गिरता है उसे नदी में नहीं गिरने दिया जायेगा। इसके लिये चालिस करोड़ रुपये की लागत से पांच नालों का निर्माण कराया जायेगा और सरयू नदी के शुद्ध जल उपलब्ध कराया जायेगा। उन्होंने कहा कि जो काम 70 साल में नहीं हुआ वह कार्य नरेन्द, मोदी सरकार ने साढ़ चार साल में कर दिखाया गया। उत्तर प्रदेश की तस्वीर बदल रही है।

ज्यादातर सड़क सीमेंट, कंकरीट की बन रही हैं। दो सौ सालों तक इस रोड पर गड्ढे नहीं पड़गे और किसी ठेकेदार से क्वालिटी से समझौता नहीं किया जायेगा। श्री गडकरी ने कहा कि मोदी सरकार भ्रष्टाचार मुक्त सरकार है। जिन सड़कों का मैं शिलान्यास कर रहा हूँ उसमें एक पैसे का भ्रष्टार (करप्शन) नहीं होने दूंगा। अयोध्या में रिंग रोड बनेगा। छियालिस किलोमीटर अयोध्या जाम से मुक्त होगा। उन्होंने कहा कि अयोध्या से श्रृंगवेरपुर तक राम वनगमन मार्ग बनेगा। उन्होंने कहा कि प्रयाग के कुम्भ मेले में संतों ने प्रधानमंत्री नरेन्द, मोदी को आशीर्वाद दिया है। अगले मार्च तक गंगा निर्मल अविरल होगी। उन्होंने यह भी कहा कि वाराणसी से प्रयागराज तक जल मार्ग बनेगा और जब मैं पिछली बार अयोध्या आया था तो सरयू पर जल मार्ग बनाने की घोषणा की थी वह भी शीघ, ही बनना शुरू हो जायेगा। उन्होंने कहा कि हम देश का विकास करना चाहते हैं।

देश में खुशहाली लाना चाहता हैं। पर्यटन बढ़ना चाहते हैं। इसलिए आज हम विभिन्न योजनाओं के आधारशिला रखने आये हैं। राष्ट्रीय-गडकरी सरयू दो अंतिम अयोध्या केन्द्रीय मंत्री श्री गडकरी ने यहां सात हजार एक सौ पिन्चान्वे करोड़ की लागत से पांच परियोजनाओं का शिलान्यास किया। उन्होंने कहा कि अयोध्या क्षेत्र का सौंदर्यीकरण के लिये 55 करोड़, अयोध्या-अकबरपुर फोरलेन सड़क का निर्माण के लिये दस सौ इक्यासी करोड़, अयोध्या रिंग रोड का निर्माण के लिये बारह सौ नवासी करोड़, अयोध्या की चौरासी कोस परिक्रमा के लिये सत्ताईस सौ पचास करोड़ रुपये,बीकापुर-रुदौली-मूर्तिहनघाट तक का निर्माण कार्य नवासी करोड़ का शिलान्यास किया है। उन्होंने कहा कि राष्ट्रीय राजमार्ग के विस्तृत हो जाने से यातायात भी बढ़गा और क्षेत्रवासियों को अधिक सुगमता भी होगी। उन्होंने कहा कि मोदी सरकार ने जितना साढ़ चार वर्षों में विकास किया है उतना सत्तर वर्षों में विकास नहीं हुआ है।

केन्द्रीय मंत्री नितिन गडकरी देर से पहुंचने पर विवादित श्रीरामजन्मभूमि पर विराजमान रामलला का दर्शन नहीं कर पाये। सभा को प्रदेश के उपमुख्यमंत्री केशवप्रसाद मौर्या ने भी सभा को सम्बोधित किया। इस अवसर पर फैजाबाद के सांसद लल्लू सिंह, कैसरगंज के सांसद बृजभूषण सिंह, अम्बेडकरनगर के सांसद हरिओम् पाण्डेय, गोण्डा के सांसद कृष्णवर्धन सिंह, उत्तर प्रदेश के मंत्री रमापति शास्त्री, अयोध्या विधायक वेदप्रकाश गुप्ता, बीकापुर विधायक शोभा सिंह, गोसाईंगंज विधायक इन्द्रप्रताप तिवारी उर्फ खब्बू तिवारी, मिल्कीपुर के विधायक गोरखनाथ बाबा, रुदौली के विधायक रामचन्द, यादव, नगर निगम के महापौर ऋषिकेश उपाध्याय, भारतीय जनता पार्टी के जिलाध्यक्ष अवधेश पाण्डेय उर्फ बादल सहित भारतीय जनता पार्टी के वरिष्ठ नेता मौजूद थे।

कोई जवाब दें