भुवनेश्वर में नवीनीकृत और उन्‍नयन किये गये 100 बिस्‍तरों वाले ईएसआई अस्पताल का उद्घाटन
नई दिल्ली। प्रधानमंत्री श्री नरेन्‍द्र मोदी ने आज आईआईटी परिसर भुवनेश्‍वर से नवीनीकृत और उन्‍नयन किया गया 100 बिस्‍तर वाला भुवनेश्‍वर स्थित ईएसआई अस्‍पताल राष्‍ट्र को समर्पित किया। इसके साथ-साथ उन्‍होंने भारत सरकार की विभिन्‍न परियोजनाओं का भी शुभारंभ किया। इस अवसर पर अन्‍य गणमान्‍य व्‍यक्तियों में ओडिशा के राज्‍यपाल प्रो. गणेशी लाल, ओडिशा के मुख्‍यमंत्री श्री नवीन पटनायक, केन्‍द्रीय जनजातीय मामलों के मंत्री श्री जुएल ओराम, पेट्रोलियम और गैस, कौशल विकास और उद्यमिता मंत्री श्री धर्मेन्‍द्र प्रधान तथा भुवनेश्‍वर के सांसद डॉ. (प्रो.) प्रसन्‍ना कुमार पटसानी भी उपस्थित थे।

अपने संबोधन में प्रधानमंत्री ने कहा कि भुवनेश्‍वर के मौजूदा 50 बिस्‍तरों वाले ईएसआई अस्‍पताल को 77 करोड़ रूपये की परियोजना लागत से नवीनीकृत और उन्‍नयन करके 100 बिस्‍तरों वाला बनाया गया है। सभी आधुनिक सुविधाओं से लैस यह अस्‍पताल भुवनेश्‍वर क्षेत्र के ईएसआई योजना के तहत लाभार्थियों को अच्‍छी चिकित्‍सा सेवा उपलब्‍ध करायेगा। उन्‍होंने कहा कि केन्‍द्र सरकार देश के हर नागरिक को अच्‍छी गुणवत्‍ता की चिकित्‍सा सुविधा उपलब्‍ध कराने के लिए कार्य कर रही है। इस उद्देश्‍य के लिए देश के दूर-दराज के हिस्‍सों में चिकित्‍सा सुविधा उपलब्‍ध कराने के लिए आयुष्‍मान भारत योजना के तहत कल्‍याण स्‍वास्‍थ्‍य केन्‍द्र खोले जा रहे हैं।

इस आयोजन के दौरान जिन अन्‍य परियोजनाओं का उद्घाटन / शिलान्‍यास किया गया है वे सड़क परिवहन और राजमार्ग मंत्रालय, मानव संसाधन विकास मंत्रालय और पेट्रोलियम तथा प्राकृतिक गैस मंत्रालय, भारत सरकार से संबंधित हैं।

भारत में ईएसआई योजना

कर्मचारी राज्‍य बीमा निगम (ईएसआईसी) एक प्रमुख सामाजिक सुरक्षा संगठन है। यह उचित चिकित्‍सा देखभाल जैसे व्‍यापक सामाजिक सुरक्षा लाभ प्रदान करता है और जरूरत के समय जैसे नौकरी के दौरान घायल होना, बीमारी या मृत्‍यु आदि मामलों में अनेक नकद लाभ उपलब्‍ध कराता है।

ईएसआई अधिनियम उन परिसरों / परिसीमाओं पर लागू होता है जहां 10 या उससे अधिक व्यक्ति कार्यरत हैं। 2,1,000 रूपये तक वेतन पाने वाले कर्मचारी स्वास्थ्य बीमा और इस अधिनियम के तहत अन्‍य लाभ पाने के हकदार हैं। यह अधिनियम अब देश भर में 10.33 लाख से अधिक कारखानों और प्रतिष्ठानों पर लागू होता है, और इससे लगभग 3.43 करोड़ बीमित व्यक्ति और कामगारों के परिवार लाभान्वित हो रहे हैं। फिलहाल ईएसआई योजना की लाभार्थी आबादी 13.32 करोड़ से अधिक है। 1952 में अपनी स्थापना से लेकर अभी तक ईएसआई कॉरपोरेशन ने 154 अस्पताल, 1500/148 डिस्पेंसरी / आईएसएम यूनिटें, 815 शाखा / वेतन कार्यालय और 64 क्षेत्रीय और उप-क्षेत्रीय / मंडल कार्यालय स्थापित किए हैं।

कोई जवाब दें