अशोकनगर में महिलाओं द्वारा संचालित मतदान केन्द्रों पर मिली बेहतर सुविधाएँ
भोपाल। महिला सशक्तिकरण की दिशा में भारत निर्वाचन आयोग द्वारा नवाचार करते हुए पूरी तरह महिलाओं द्वारा मतदान केन्द्रों का संचालन बेहतर तरीके से किया गया। इस नवाचार से महिला मतदाताओं का मतदान के प्रति आकर्षण देखा गया। अशोकनगर की कलेक्टर एवं जिला निर्वाचन अधिकारी डॉ. मंजू शर्मा ने स्वयं भी 28 नवंबर-मतदान दिवस को प्रात: 8 बजे महिलाओं द्वारा संचालित मतदान केन्द्र क्रमांक 125 सेंट थामस हायर सेकेण्ड्री स्कूल अशोकनगर पहुँचकर मतदान किया।

भारत निर्वाचन आयोग के निर्देशानुसार विधानसभा निर्वाचन 2018 में जिला अशोकनगर की तीनों विधानसभा क्षेत्र 32 अशोकनगर, 33 चंदेरी तथा 34 मुंगावली के लिए संपूर्ण महिलाओं द्वारा संचालित 30 मतदान केन्द्र बनाए गए। इसमें नगर परिषद शाढौरा में 8, ईसागढ़ में 9, चंदेरी में 3, अशोकनगर में 5 तथा मुंगावली में 5 मतदान केन्द्र बनाए गए। यह कदम महिला सशक्तिकरण की दिशा मे काफी महत्वपूर्ण रहा। महिलाओं द्वारा संचालित मतदान केन्द्रों में मतदान दल में सिर्फ महिलाएँ शामिल थीं और सुरक्षा के लिए भी महिला पुलिस कर्मी की ही तैनाती की गयी थी। क्यूलेस व्यवस्था के तहत बैठने की पर्याप्त व्यवस्था, छाया, पानी एवं रेम्प के साथ नि:शक्तजनों के लिए व्हीलचेयर एवं ट्राईसाईकिल की व्यवस्था भी की गई थी। महिलाओं को बिना लाइन में लगे मतदान करने की सुविधा भी प्रदान की गई थी।

नई मतदाता श्रुति सिंघई ने पहली बार मतदान करने शाढौरा मतदान केन्द्र पर पहुँचकर मतदान किया। श्रुति ने कहा कि संपूर्ण रूप से महिलाओं द्वारा संचालित मतदान केन्द्र बनाए जाने से महिलाओं का मान-सम्मान बढ़ा है। इससे महिला मतदाता निर्भीक होकर मतदान करने आगे आ रही हैं।

शाढौरा निवासी पहली बार मतदान करने वाली मतदाता पिंकी नरवरिया ने कहा कि लोकतंत्र के उत्सव में प्रथम बार शाढौरा मतदान केन्द्र पर मतदान किया है। केन्द्र पर भारत निर्वाचन आयोग द्वारा करवाई गई व्यवस्थाएँ सराहनीय रही। मतदान केन्द्र पर छाया, पानी एवं बैठने की समुचित व्यवस्था थी। शाढौरा की ही काजल सेन ने भी प्रथम बार मतदान किया। उन्होंने बताया कि संपूर्ण महिलाओं द्वारा संचालित मतदान केन्द्र काफी सुविधाजनक हैं। इन केन्द्रों पर पीठासीन अधिकारी से लेकर मतदान अधिकारी सभी महिलाएँ हैं। महिलाओं द्वारा मतदान कराते देखना काफी सुखद अनुभव रहा।

ईसागढ़ निवासी प्रीति अहिरवार एवं श्रीमति काजल ने बताया कि महिलाओं द्वारा संचालित मतदान केन्द्र काफी आकर्षक एवं सुंदरता से परिपूर्ण रहे। मतदान के लिए आने वाले मतदाताओं की सुविधाओं का विशेष ध्यान रखा गया। बेहतर सुविधाएं मिलने एवं आकर्षक बूथ होने से मतदाताओं में मतदान के प्रति काफी उत्साह रहा।

100 वर्षीय महिला बफातन बी ने शासकीय कन्या प्राथमिक शाला शाढौरा मतदान केन्द्र क्रमांक 33 में मतदान किया। उन्होंने कहा कि मतदान केन्द्र के अंदर महिला कर्मचारियों द्वारा मतदान करवाना उनके जीवन में पहली बार देखने को मिला। उन्होंने सुगम मतदान की व्यवस्था के लिये सभी को धन्यवाद दिया।

कोई जवाब दें