सातवां अंतर्राष्ट्रीय पर्यटन मार्ट 22-24 नवंबर, 2018 को त्रिपुरा के अगरतला में आयोजित किया जाएगा
नई दिल्ली। भारत सरकार का पर्यटन मंत्रालय 22-24 नवंबर, 2018 के दौरान त्रिपुरा के अगरतला में ‘अंतर्राष्‍ट्रीय पर्यटन मार्ट’ का आयोजन करने जा रहा है। इसका आयोजन पर्यटन विभाग, त्रिपुरा सरकार और पूर्वोत्तर राज्‍यों के सहयोग से किया जा रहा है। पर्यटन मार्ट का आयोजन प्रगणा भवन में किया जाएगा और इसका उद्घाटन 22 नवंबर को केन्‍द्रीय पर्यटन मंत्री श्री के. जे. अल्‍फोंस, त्रिपुरा के मुख्‍यमंत्री श्री बिप्‍लब कुमार देब एवं केन्‍द्रीय पर्यटन सचिव श्रीमती रश्मि वर्मा की गरिमामयी उपस्थिति में त्रिपुरा के राज्‍यपाल प्रो. कप्‍तान सिंह सोलंकी द्वारा किया जाएगा। इस अवसर पर केन्‍द्रीय मंत्रालयों तथा पूर्वोत्तर राज्‍यों के अन्‍य गणमान्‍य व्‍यक्ति भी उपस्थित होंगे।

यह अंतर्राष्‍ट्रीय पर्यटन मार्ट का सातवां संस्‍करण है। इसका आयोजन हर वर्ष पूर्वोत्तर क्षेत्र में किया जाता है जिसका उद्देश्‍य घरेलू और अंतर्राष्‍ट्रीय बाजारों में इस क्षेत्र की पर्यटन संभावनाओं पर प्रकाश डालना है। यह मार्ट आठों पूर्वोत्तर राज्‍यों के पर्यटन कारोबार से जुड़ी बिरादरी और उद्यमियों को एकजुट होने का अवसर प्रदान करता है। पर्यटन मार्ट के आयोजन का कार्यक्रम कुछ इस तरह से तय किया गया है जिससे कि क्रेताओं, विक्रेताओं, मीडिया, सरकारी एजेंसियों और अन्‍य हितधारकों को आपस में संवाद करने में सुविधा हो सके।

पूर्वोत्तर राज्‍यों में अंतर्राष्‍ट्रीय पर्यटन मार्ट का आयोजन बारी-बारी से होता है। इससे पहले अंतर्राष्‍ट्रीय पर्यटन मार्ट का आयोजन गुवाहाटी, तवांग, शिलांग, गंगटोक और इम्‍फाल में किया गया था।

भारत के पूर्वोत्तर क्षेत्र में अरुणाचल प्रदेश, असम, मणिपुर, मेघालय, मिजोरम, नगालैंड, त्रिपुरा एवं सिक्किम शामिल हैं और इस क्षेत्र में पर्यटन की दृष्टि से व्‍यापक आकर्षक विविधताएं देखने को मिलती हैं।

इस अंतर्राष्‍ट्रीय पर्यटन मार्ट में विश्‍व भर के कई देशों के साथ-साथ भारत के विभिन्‍न क्षेत्रों के भी क्रेतागण एवं मीडिया प्रतिनिधि बड़ी संख्‍या में मौजूद रहेंगे। इस दौरान वे पूर्वोत्तर क्षेत्र के विक्रेताओं के साथ कारोबार संबंधी बैठकें करेंगे। इससे पूर्वोत्तर क्षेत्र के पर्यटन उत्‍पादों के आपूर्तिकर्ताओं को अंतर्राष्‍ट्रीय एवं घरेलू खरीदारों तक अपनी पहुंच सुनिश्चित करने का मौका मिलेगा। इसका उद्देश्‍य पूर्वोत्तर क्षेत्र में पर्यटन को बढ़ावा देना है। 18 देशों के कुल 41 विदेशी प्रतिनिधि इस अंतर्राष्‍ट्रीय पर्यटन मार्ट में भाग लेने के लिए त्रिपुरा आएंगे। इन देशों में ऑस्ट्रेलिया, कनाडा, चीन, फ्रांस, इंडोनेशिया, जापान, केन्या, मलेशिया, म्यांमार, नीदरलैंड, न्यूजीलैंड, रूस, दक्षिण अफ्रीका, दक्षिण कोरिया, स्पेन, थाईलैंड, संयुक्त अरब अमीरात और अमेरिका शामिल हैं। इन विदेशी प्रतिनिधियों में 23 टूर ऑपरेटर एवं ट्रैवल एजेंट और 18 मीडिया प्रतिनिधि, पत्रकार, यात्रा लेखक एवं ब्‍लॉगर शामिल हैं। विदेशी प्रतिनिधियों के अलावा देश के अन्‍य हिस्‍सों के 26 घरेलू टूर ऑपरेटर और पूर्वोत्तर राज्‍यों के 78 विक्रेता भी इस अंतर्राष्‍ट्रीय पर्यटन मार्ट में हिस्‍सा लेंगे। इन पूर्वोत्तर राज्‍यों के प्रति‍निधि भी इस अवसर पर उपस्थित होकर अपने यहां के पर्यटन गंतव्‍यों को प्रदर्शित करेंगे और इसके साथ ही विभिन्‍न प्रतिनिधियों से संवाद भी करेंगे।

कोई जवाब दें