नोटबंदी के 2 साल पूरे होने पर कांग्रेस देशभर में करेगी प्रदर्शन, दिल्ली में राहुल गांधी करेंगे अगुवाई
नई दिल्लीः कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी नोटबंदी के 2 साल पूरा होने पर इसके विरोध में सड़क पर उतरेंगे. कांग्रेस पार्टी ने तय किया है कि 9 नवंबर को पूरे देशभर में प्रदर्शन होगा जिसे कांग्रेस पार्टी के तमाम बड़े नेता और कार्यकर्ता शामिल होंगे. यह प्रदर्शन देश के सभी राज्य और जिला मुख्यालय पर किया जाएगा. दिल्ली में इसकी अगुवाई कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी करेंगे. कांग्रेस के संगठन महासचिव अशोक गहलोत की तरफ से इसके लिए खास तौर पर सभी राज्य इकाइयों को पत्र भेजा गया है जिसमें उनसे इस प्रदर्शन को जोरदार तरीके से करने और ज्यादा से ज्यादा जनता की भागीदारी सुनिश्चित करने को कहा गया है.

9 नवंबर को दिल्ली में होने वाले बड़े प्रदर्शन की रूपरेखा तैयार की जा रही है और दिल्ली में होने वाले बड़े प्रदर्शन की जिम्मेदारी दिल्ली कांग्रेस अध्यक्ष अजय माकन को दी गई है जिसमें कांग्रेस पार्टी के तमाम बड़े नेता शामिल होंगे राहुल गांधी भी इस प्रदर्शन में शामिल रहेंगे.

कांग्रेस पार्टी की मांग की है कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी 8 नवंबर को देश बेस्ट माफी मांगे, जिस तरीके से नोटबंदी करते वक्त उन्होंने 8 नवंबर 2016 को राष्ट्र को संबोधित किया था ठीक उसी तरीके से अब उनको सार्वजनिक तौर पर क्षमा याचना करनी चाहिए और यह बताना चाहिए कि नोटबंदी का उनका फैसला पूरी तरीके से गलत था, जिसका खामियाजा आम आदमी किसान व्यापारी वर्ग और समाज के हर तबके पर पड़ा है. जिसकी वजह से पूरे देश में बेरोजगारी बढ़ गई उद्योग धंदे बंद हो गए.

कांग्रेस पार्टी ने आरोप लगाया है कि जब नरेंद्र मोदी ने 8 नवंबर को नोटबंदी की थी तो उन्होंने कहा था कि से देश में ब्लैकमनी ने खत्म हो जाएगी, आतंकवाद और नक्सलवाद पर लगाम लग जाएगी और देश की अर्थव्यवस्था सुधर जाएगी. लेकिन इसमें से कुछ भी नहीं हुआ.

कांग्रेस पार्टी ने आरोप लगाया है की मार्केट में सर्कुलेटेड 99% पैसा वापस बैंकों में आ गया है और काले धन पर इससे कोई फर्क नहीं पड़ा. जबकि बेरोजगारी बढ़ गई आतंकवाद और नक्सलवाद पर भी लगाम नहीं लगी. लिहाजा यह नोट बंदी योजना पूरी तरीके से फैल रही है.

कांग्रेस पार्टी ने अपने सभी बड़े नेताओं से उनके अपने संसदीय क्षेत्र में जाने और प्रदर्शन करते हुए कहा है इसके अलावा कांग्रेस कार्यकर्ताओं को भी 9 नवंबर को पूरे देश भर में सड़क पर उतरने के निर्देश दिए गए हैं और 9 नवंबर को पूरे देश में नरेंद्र मोदी सरकार की नोटबंदी के फैसले खिलाफ कांग्रेस पार्टी प्रदर्शन करेगी. इसके अलावा जिन पांच राज्यों में विधानसभा चुनाव है वहां पर की भी राज्यों की राजधानी में प्रदर्शन करने की योजना है. कांग्रेस पार्टी की कोशिश है कि पूरी ताकत लगा कर नोट बंदी के मुद्दे को उठाया जाए और प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और बीजेपी को घेरा जाए.

कोई जवाब दें