स्‍वास्‍थ्‍य मंत्रालय जागरुकता सप्‍ताह मनाएगा
नई दिल्ली। स्‍वास्‍थ्‍य और परिवार कल्‍याण मंत्रालय केन्‍द्रीय सतर्कता आयोग (सीवीसी) के निर्देशों के अनुसार 29 अक्‍टूबर से 3 नवम्‍बर, 2018 तक जागरुकता सप्‍ताह मनाएगा। इस वर्ष जागरूकता का शीर्षक है ‘‘भ्रष्‍टाचार उन्‍मूलन – नए भारत का निर्माण’’। स्‍वास्‍थ्‍य और परिवार कल्‍याण राज्‍य मंत्री श्री अनुप्रिया पटेल ने मंत्रालयों के अधिकारियों और कर्मचारियों को भ्रष्‍टाचार के खिलाफ लड़ने तथा ईमानदारी और सत्‍यनिष्‍ठा के सर्वोच्‍च मानदंड स्‍थापित के लिए प्रतिबद्ध रहने का ‘संकल्‍प‘ दिलाया।

केन्‍द्रीय सतर्कता आयोग का उद्देश्‍य सार्वजनिक जीवन में सत्‍यनिष्‍ठा, पारदर्शिता और जवाबदेही को बढ़ावा देना है। सार्वजनिक जीवन में ईमानदारी को बढ़ावा देने और एक भ्रष्‍टाचार मुक्‍त समाज की स्‍थापना के अपने प्रयासों के अंतर्गत सीवीसी हर वर्ष जागरुकता सप्‍ताह मनाता है। यह सप्‍ताह मनाने से लोगों में अधिक जागरुकता पैदा होगी और सभी को भ्रष्‍टाचार की रोकथाम करने और उसके खिलाफ लड़ने में सामूहिक भागीदारी के लिए प्रोत्‍साहन मिलेगा।

एक सप्‍ताह लंबे जागरूकता अभियान के दौरान मंत्रालय के अधिकारियों और कर्मचारियों को अपने कार्य में सतर्कता और पारदर्शिता बरतने के प्रति संवेदनशील बनाने और प्रेरित करने के लिए सेमिनार, वाद-विवाद और निबंध प्रतियोगिताओं का आयोजन किया जाएगा ताकि जीवन के हर क्षेत्र से भ्रष्‍टाचार उन्मूलन किया जा सके।

कोई जवाब दें