जापान के प्रधानमंत्री श्री शिंजो आबे ने स्‍वच्‍छ भारत मिशन को सहयोग देने की पेशकश की
नई दिल्ली। जापान के प्रधानमंत्री श्री शिंजो आबे ने स्‍वच्‍छ भारत मिशन के लिए अपनी सरकार का सहयोग देने की पेशकश की है। एक लिखित संदेश में श्री आबे ने कहा कि जापान भारत के साथ सहयोग करेगा, जो प्रधानमंत्री मोदी के नेतृत्‍व में स्‍वच्‍छ भारत पहल को बढ़ावा दे रहा है।

श्री आबे ने एशिया में स्‍वस्‍थ समाज की कल्‍पना को साकार करने के प्रति जापान की प्रतिबद्धता व्‍यक्‍त की और महात्‍मा गांधी अंतर्राष्‍ट्रीय स्‍वच्‍छता सम्‍मेलन की सफलता पर भारत को बधाई दी। प्रधानमंत्री आबे ने अपने संदेश में कहा, “स्‍वच्‍छ जल और स्‍वच्‍छता की स्थिति में सुधार करना दुनिया के सामने एक साझा चुनौती है। हमें उम्‍मीद है कि इस सम्‍मेलन में सक्रिय विचार-विमर्श के जरिये इस चुनौती से निपटने के प्रत्‍येक देश के प्रयासों में और प्रगति होगी।

महात्‍मा गांधी अंतर्राष्‍ट्रीय स्‍वच्‍छता सम्‍मेलन (एमजीआईएससी) चार दिन का अंतर्राष्‍ट्रीय सम्‍मेलन था, जिसमें दुनिया भर के स्‍वच्‍छता मंत्री और डब्‍ल्‍यूएएसएच (जल, स्‍वच्‍छता और स्‍वास्‍थ्‍य विज्ञान) के अन्‍य नेता शामिल हुये। सम्‍मेलन में राष्‍ट्रीय और अंतर्राष्‍ट्रीय गणमान्‍य व्‍यक्तियों ने भाग लिया। इसका उद्घाटन भारत के राष्‍ट्रपति ने किया और उपराष्‍ट्रपति ने संबोधित किया। सम्‍मेलन का समापन गांधी जयंती के दिन 02 अक्‍टूबर, 2018 को हुआ, जिसे स्‍वच्‍छ भारत दिवस के रूप में भी मनाया गया। प्रधानमंत्री श्री नरेन्‍द्र मोदी और संयुक्‍त राष्‍ट्र महासचिव एंटोनियो गुटेरेस ने समापन समारोह को संबोधित किया।

कोई जवाब दें