वर्ष 2016 के मुकाबले वर्ष 2017 में अमेरिका से 6.17 प्रतिशत ज्‍यादा पर्यटक भारत आये
नई दिल्ली। पर्यटन मंत्रालय ने स्‍पष्‍ट किया है कि वर्ष 2017 में अमेरिका से भारत आये पर्यटकों की संख्‍या में वर्ष 2016 की तुलना में 6.17 प्रतिशत की धनात्‍मक वृद्धि दर्ज की गई है। वर्ष 2010 से ही भारत में अमेरिका से विदेशी पर्यटकों के आगमन में कभी भी कमी दर्ज नहीं की गई है।

हालांकि, अमेरिका स्थित राष्‍ट्रीय यात्रा एवं पर्यटन कार्यालय (एनटीटीओ) की एक रिपोर्ट से पता चला है कि वर्ष 2017 में अमेरिका से भारत आये पर्यटकों की संख्‍या में वर्ष 2016 के मुकाबले 7 प्रतिशत की कमी दर्ज की गई है। रिपोर्ट में बताया गया है कि वर्ष 2016 और वर्ष 2017 में अमेरिका से भारत में क्रमश: 11,95,000 और 11,11,000 पर्यटकों का आगमन हुआ। एनटीटीओ द्वारा जारी रिपोर्ट में बताया गया है कि यात्रियों की संख्‍या यूएस डिपार्टमेंट ऑफ होमलैंड सिक्योरिटी की उन्‍नत यात्री सूचना प्रणाली पर आधारित होती है, जिसके तहत सभी एयरलाइनों के लिए अमेरिका आने वाली और अमेरिका से प्रस्‍थान करने वाली उड़ानों से जुड़े यात्री आंकड़ों को इले‍क्‍ट्रॉनिक ढंग से दर्ज कराना आवश्‍यक होता है। अत: यह स्‍पष्‍ट है कि इस रिपोर्ट में आंकड़ों का स्रोत केवल एयरलाइंस ही है। ऐसे मामले जिनमें अमेरिका और भारत के बीच सीधी उड़ानों का संचालन नहीं होता है, उनके बारे में यह ज्ञात नहीं है कि इन उड़ानों के यात्रियों का अंतिम अथवा पारगमन गन्‍तव्‍य क्‍या होता है, जैसा कि भारत में दर्ज किया जाता है। इसके अलावा, हवाई अड्डों के बजाय अंतर्राष्‍ट्रीय चेक पोस्‍ट से होने वाली रवानगी को इस रिपोर्ट में दर्ज नहीं किया जाता है। अत: इससे ऐसा प्रतीत होता है कि अमेरिका से विदेश जाने वाले यात्रियों की संख्‍या के बारे में पूर्ण सूचना इस रिपोर्ट में नहीं है।

वहीं, दूसरी ओर भारत का आप्रवासन ब्यूरो (बीओआई) भारत स्थित समस्‍त अंतर्राष्‍ट्रीय चेक पोस्‍ट पर पहुंचने वाले प्रत्‍येक व्‍यक्ति के स्‍कैन किये हुए पासपोर्ट के रिकॉर्ड से एफटीए (विदेशी पर्यटकों का आगमन) डेटा का संकलन करता है, जिनमें हवाई अड्डे, समुद्री बंदरगाह और लैंड चेक पोस्‍ट भी शामिल है।

कोई जवाब दें