नई दिल्‍ली: केंद्र सरकार द्वारा गणतंत्र दिवस-2018 समारोह के एक भाग के रूप में दिल्ली स्थित लाल किले पर 26 से 31 जनवरी, 2018 तक भारत पर्व कार्यक्रम का आयोजन किया जायेगा। कार्यक्रम का मुख्य उद्देश्य लोगों में देश भक्ति की भावना जागृत करना, देश के विविधता पूर्ण सांस्कृतिक विरासत को प्रोत्साहित करना और जनभागीदारी को बढ़ाना सुनिश्चित करना है।

भारत पर्व कार्यक्रम के लिए पर्यटन मंत्रालय नोडल मंत्रालय के रूप में कार्य करेगा। कार्यक्रम के प्रमुख आकर्षणो में गणतंत्र दिवस परेड की झांकियां और सशस्त्र बलो के बैंड का प्रदर्शन, कई राज्यों का खाना, हस्तशिल्प मेला, देश के विभिन्न भागो से सांस्कृतिक प्रदर्शन और विज्ञापन और दृश्य प्रचार निदेशालय(डीएवीपी) द्वारा फोटो प्रदर्शनी का आयोजन सम्मिलित है।

कार्यक्रम में दौरान सांस्कृतिक प्रदर्शन में उत्तर क्षेत्र सांस्कृतिक केंद्र द्वारा परंपरागत और आदिवासी नृत्य और संगीत के प्रदर्शन के साथ-साथ देशभर से विभिन्न सांस्कृतिक मंडलियों का प्रदर्शन सम्मिलित होगा। फूड कोर्ट में राज्यों और संघ शासित प्रदेशों,नेशनल एसोसिएशन ऑफ स्ट्रीट वैंडर्स ऑफ इंडिया द्वारा भारत के विभिन्न क्षेत्रों के परंपरागत खाने के साथ-साथ होटल प्रबंधन संस्थान और आईटीडीसी द्वारा भी स्टॉल लगाए जाएगे।

हस्तशिल्प मेले में 50 स्टॉल द्वारा देश की विविध हस्तशिल्प उत्पादों का प्रदर्शन किया जायेगा। इस प्रबंधन राज्य सरकारों और वस्त्र मंत्रालय द्वारा हस्तशिल्प विकास आयुक्त कार्यालय के द्वारा किया जायेगा। इसके साथ ही थीम स्टेट मंडप में प्रत्येक राज्य द्वारा अपनी-अपनी क्षमताओं के प्रदर्शन के साथ-साथ पर्यटन उत्पादों का प्रदर्शन भी किया जायेगा। कार्यक्रम में डीएवीपी “नया भारत हम करेके रहेंगे” पर एक प्रदर्शनी का आयोजन भी करेगा। भारत के विभिन्न राज्यो के खान-पान को प्रोत्साहित करने के लिए सजीव कुकरी प्रदर्शन क्षेत्र भी लगाया जायेगा।

भारत पर्व कार्यक्रम का उद्घाटन 26 जनवरी 2018 को शाम 5 बजे किया जायेगा और यह जनता के लिए रात 10 बजे तक खुला रहेगा। 27 से 31 जनवरी 2018 तक कार्यक्रम का आयोजन दोपहर 12 बजे से रात 10 बजे तक होगा। कार्यक्रम में प्रवेश निशुल्क है,हांलाकि कार्यक्रम में प्रवेश के लिए पहचान का प्रमाण प्रदर्शित करना होगा।

कोई जवाब दें